रामपुर/कैमूर। सड़क दुर्घटना में इटवा के दो लोगों की मौत से गांव में पसरा मातमी सन्नाटा,शव पहुँचते ही मचा कोहराम
मिली जानकारी के मुताबिक, बेलाव थाना क्षेत्र के इटवा गांव के बाइक सवार श्री भगवान राम एवं उमेश तिवारी को बरात लेकर वापस आ रही मैजिक वाहन ने टक्कर मार दी।जिसमें इन दोनों लोगों की वाराणसी में इलाज के लिए ले जाते समय बीच रास्ते में दम टूट गया और डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

वही इटवा गांव के इन दोनों युवकों की मौत के बाद सूचना मिलने पर गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया।सोमवार को सुबह से लेकर शाम तक लोगों के घरों में चूल्हे तक नहीं जले। भभुआ सदर अस्पताल से दोनों शवों की पोस्टमार्टम के बाद शव पहुंचते ही कोहराम मच गया। वहीं परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो गया है।

साल अंदर ही रितु की उजड़ गई दुनिया, धूल गई मांग की सिंदूर
मिली जानकारी के मुताबिक, इटवा गांव के मृतक श्री भगवान राम की 1 साल पहले ही खरेंदा गांव के मुनाई राम की बेटी रितु कुमारी से शादी हुई थी। श्री भगवान राम के मौत से परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। वहीं 1 साल के अंदर ही दुर्घटना में श्री भगवान की मौत से रितु की दुनिया ही उजड़ गई।वही पत्नी की मांग का सिंदूर भी धूल गया।

बताया जाता है कि श्री भगवान अपने तीन भाइयों में सबसे छोटा था और तीनों भाई अलग-अलग रहते थे। मृतक मजदूरी का काम कर अपने परिवार का भरण पोषण करता था। श्री भगवान की मौत से पत्नी रितु का रो रोकर कर बुरा हाल है।

दो बच्चे के सिर से उठ गया पिता का साया
इटावा गांव के उमेश तिवारी की सड़क दुर्घटना में मौत से दो बच्चे के सिर से पिता का साया उठ गया। उमेश तिवारी की 12 साल पहले शादी हुआ था। एक बेटा 7 साल का राजन तिवारी व 5 साल की बेटी नंदिनी कुमारी है। पत्नी सब्या देवी सहित परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। उमेश अपने पांच भाइयों में सबसे छोटा है।

खेती बाड़ी का काम कर अपने परिवार का भरण पोषण करते थे।उमेश की मां कुमरावती कुंवर लकवा ग्रस्त होकर बेड पर पड़ी है। उमेश ही अपनी मां का सहारा था। जो दिन रात हमेशा मां की सेवा करता रहता था। लेकिन इस बुढ़ापे के समय में मां की सहारा ही उमेश की मौत से छिन गया।

बीडीओ ने कहा मृतक के परिवार को मिलेगा मुआवजा इटवा गांव में दोनों मृतकों के शव पहुंचते ही गांव में कोहराम मच गया। वही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है। वही शव पहुंचने की सूचना पर रामपुर संजय पाठक, सीआई सुजीत कुमार भी पहुंच गए। जहां मृतक के परिवार को आपदा विभाग के तहत उचित मुआवजा देने की बात कही गई। कहा गया कि जो भी सरकारी प्रावधान है। उसे मृतक के परिवार को दिलाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here