कैमूर। कोरोना संक्रमण को लेकर 8 जून तक लॉक डाउन लागू है। इस बीच शादी विवाह में 20 लोगों को ही शामिल होने की छूट दी गयी है। वही कोविड 19 व लॉक डाउन के नियमो का पालन करना है। लेकिन कैमूर से एक ऐसा मामला सामने आया है जहाँ लॉक डाउन में हो रही शादी में हर्ष फायरिंग में दूल्हे के शहबाला ही गोली का शिकार होकर घायल हो गया।आनन फानन में परिजनों द्वारा उसे मोहनियां के निजी क्लिनिक में ले जाया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है।

मामला कैमूर जिले के कुदरा थाना के फकराबाद का है। बताया जाता है कि मोहनियां से पंचसेरवा गाँव से कुदरा थाना के फकराबद गाँव बारात शनिवार की रात आया था। जब बारात लड़की के दरवाजे पर पहुँची और द्वारपूजा शुरू हुआ। इस शादी समारोह के दौरान लड़की के पक्ष के लोगो ने खुशी में कई राउंड फायरिंग करने लगे। तभी इस हर्ष फायरिंग का शिकार दूल्हे के शहबाला हो गया। जिसके कमर में गोली जा लगी।

जिसके बाद अफरातफरी का माहौल हो गया। जहां शादी के खुशियों में ग्रहण लग गया। ख़ुशी मातम में बदल गया।आनन फानन में परिजनों द्वारा घायल शहबाला को मोहनियां के निजी अस्पताल में लाया गया। जहाँ उसकी इलाज कराया जा रहा है।बताया जाता है दूल्हे के शहबाला रिश्ते में दूल्हे के भतीजा बताया जाता है।

दूल्हे के भाई आलोक खरवार ने बताया कि शादी के दौरान लड़की पक्ष के तरफ से हर्ष फायरिंग किया गया। जिसमें उनके भतीजे यानी शहबाला को कमर गोली लग गयी। जिसके बाद वह घायल हो गया। वहीं सूचना पर पहुँची कुदरा पुलिस जाँच में जुटी में जुटी हुई है।

कुदरा एएसआई ने बताया कि बारात में गोली चलने की सूचना मिली थी कि एक 10 वर्षीय बच्चे को गोली लगी है। जिसके बाद घटना स्थल पर पहुँच कर पुलिस मामले की जाँच कर रही है। जाँच के बाद पुलिस द्वारा आगे की के कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here