दुर्गावती (कैमूर)। जिले के दुर्गावती प्रखंड क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत सावठ के मुखिया मकसूद अली ने श्मशान घाट मरघट के लिए पंचायत में दो जगहों पर बिहार सरकार की जमीन कार्यकारिणी की बैठक में प्रस्ताव पास करा दी है. इसकी जानकारी उन्होंने प्रखंड पदाधिकारी को भी दी है.इस प्रस्ताव से गांव के गरीबों को अंतिम संस्कार करने में काफी सहूलियत मिलेगी.

सावठ पंचायत के मुखिया मकसूद अली ने बताया कि गांव के गरीब लोगों को अपने पूर्वजों के मृत्यु होने पर अंतिम संस्कार करने के लिए जमानिया एवं बनारस घाट जाना पड़ता था इसमें गरीब तबके के लोग असमर्थ हो जाते थे. उन्हें पैसे की जुगाड़ करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था.

जिसे देखते हुए कुछ दिनों पहले पंचायत भवन पर कार्यकारिणी की बैठक बुलाई गई थी जिसमे वार्ड के सदस्य शामिल हुए थे. बैठक में यह निर्णय लिया गया कि गांव के गरीब लोगों के पूर्वजों के मृत्यु होने पर अंतिम संस्कार करने के लिए श्मशान घाट एवं मरघट के लिए जमीन की आवश्यकता है. और इसके लिए सावठ गांव के रेलवे के उत्तर तरफ एवं गांव के पश्चिम तरफ नदी के पास बिहार सरकार की 25-25 डिसमिल जमीन उपलब्ध है.

जिसे श्मशान घाट मरघट के नाम से प्रस्ताव पास कर अलॉट कर दिया जाए. जिस पर उपस्थित सभी वार्ड सदस्यों की सहमति से दोनों जगहों पर श्मशान मरघट के लिए जमीन को सहमति देकर प्रस्ताव पास कर दिया गया. मुखिया ने बताया की इस प्रस्ताव की जानकारी दुर्गावती वीडीओ को भी दे दी गई है तथा उसकी एक कॉपी जिलाधिकारी महोदय को भी भेज दी जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here