Kaimur। कैमूर राष्ट्रीय जनता दल के प्रवक्ता पंकज कुमार ने कहा कि आज सत्ता पक्ष में बैठे लोग नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव जी को खोज रहे। उनसे सवाल पूछ रहे हैं कि वह कहां है यह धूर्तई की राजनीति भाजपा और जदयू की लोगों को बंद करना चाहिए। पूरा बिहार ही नहीं देश जानता है कि आज तेजस्वी यादव किस दौर से गुजर रहे हैं। बिहार ही नहीं देश का आवाम समझ रहा है कि आज एक पिता को उसके पुत्र की कितनी जरूरत है।

जैसा कि हम सभी जानते हैं लालू की सेहत अभी बिल्कुल ठीक नहीं है। उन्हें सांस लेने में तकलीफ है। जो लगातर बढ़ती जा रही है।वह पूर्ण रूप से स्वस्थ नहीं है और डॉक्टरों की निगरानी में दिल्ली में रह रहे हैं। ऐसे में एक पुत्र का पिता के साथ होना पुत्र के दायित्वों की पूर्ति करता है। वह अपने पिता की सेवा करते हुए पुत्र धर्म का फर्ज निभा रहे है।

पुत्रधर्म भी ये ही कहता है और यह संदेश देता है कि विकट परिस्थितियों में हमें अपने परिजनों का ध्यान रखना भी आवश्यक है। वह नेता ही क्या जो अपने परिवार को ना संभाल पाए। अगर कोई व्यक्ति राजनीति में है और उससे अपना परिवार नहीं संभल रहा।अपने घर के लोगों का वह ख्याल नहीं रख पा रहा तो वह व्यक्ति राज्य और इस देश की जनता का क्या ख्याल रखेगा।खैर भाजपा और जदयू के लोग इस बात को नहीं समझेंगे। उनका चरित्र ही ऐसा है दिशाहीन राजनीति की पृष्ठभूमि है। उनका इतिहास ही कुछ ऐसा रहा है।

पीएम पर हमला बोलते हुए कहा कि अब आप देश के प्रधानमंत्री भाजपा नेता नरेंद्र मोदी जी को ही ले लीजिए। जिस वक्त पुत्र धर्म निर्वहन करने का वक्त था तो बूढ़ी मां को घर पर अकेला छोड़कर निकल पड़े। जिस वक्त पति धर्म पालन करने का वक्त था।उस वक्त यशोदा बेन को छोड़कर निकल पड़े।

वही हमारे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को ही ले लीजिए। जिस पत्नी ने अपने गहने जेवरात बेच कर उन्हें राजनीति में स्थापित किया। सत्ता में आते ही उस पत्नी को भूल गए और आखिरी वक्त में जब वह अस्वस्थ थी। उन्हें समय ना देकर 1अणे मार्ग पर आराम फरमाते रहे।

हम राष्ट्रीय जनता दल के तमाम कार्यकर्ता सत्ता पक्ष में बैठे लोगों को बता देना चाहते हैं कि तेजस्वी यादव के नेतृत्व में राष्ट्रीय जनता दल का का एक-एक विधायक, विधान परिषद सदस्य, जिला, प्रखंड, पंचायत स्तर के नेता उनके बड़े और छोटे कार्यकर्ता सभी लोग अलग अलग माध्यमों से इस कोरोना काल में तन मन धन से जन सेवा में लगे हुए हैं।

जिन्हें खुली आंखों से यह दिख नहीं रहा है।महसूस नहीं हो रहा है। वह अपने जिलों में पता करें सरकारी अस्पतालों में पता करें गांव में पता करें कि राजद के लोग राजद के जनप्रतिनिधि उनका सहयोग उनकी सेवा कर रहे हैं कि नहीं कर रहे।
इस परिस्थिति में हमारे नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी जी भी निरंतर बिहार के प्रत्येक जिलों के उनके नेताओं से माननीय सदस्यों से बात कर रहे हैं महागठबंधन के नेताओं से संपर्क स्थापित कर रहे है लगातार उनसे जानकारी ले रहे हैं और यहां के हालात से वह लगातार रूबरू हैं ।वह नहीं होकर भी हमारे बीच में है। हमें कहीं से महसूस नहीं होता कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव आज हमारे बीच में नहीं है।

हम सभी राष्ट्रीय जनता दल के लोग चाहते हैं की इस वक्त तेजस्वी जी आदरणीय नेता राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू जी को अपना पूरा समय दें और अपने पिता का पूर्ण रूप से ख्याल रखे उनके पिता ने अपना पूरा जीवन समाजवाद सामाजिक न्याय धर्मनिरपेक्षता बिहार के गरीबों मजलूमो अकलियतों दलितों पिछड़ों प्रगतिशील जनता किसान मजदूरों के लिए लगा दिया ऐसे में लालू जी का भी स्वस्थ होना और स्वस्थ होकर पूर्ण रूप से बिहार लौटना हमारे लिए उतना ही महत्वपूर्ण है जितना महत्वपूर्ण इस कोरोना काल के दौरान राष्ट्रीय जनता दल द्वारा किया जा रहा जनसेवा।

राजद की एक-एक कार्यकर्ता के अंदर लालू तेजस्वी हैं वह अपने जिम्मेदारियों से कभी पीछे नहीं हटेंगे और बिहार के आवाम को यह महसूस नहीं होने देंगे की उनके नेता आज बीमार होने की वजह से उनकी बीच में नहीं है।

सबको पता है उनका पुत्र दिन रात उनके साथ उनकी सेवा में लगा हुआ है।ऐसे में हम सभी राष्ट्रीय जनता दल के लोग सेवा भाव से बिहार की जनता का सेवा करेंगे दिखावा करना जिन्हें हैं जिन्हें राजनीति करनी है वह करें मगर राजद के लोग निरंतर जनसेवा में लगे हुए हैं और आगे भी लगे रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here