मोहनियां/कैमूर। बिहार में कोरोना के बढते कहर को देखते हुए सरकार ने 15 मई तक संपूर्ण रूप से लॉक डाउन लगा दी गयी है. लॉकडाउन का पालन कराने हेतु अधिकारी सड़क पर उतर गए .कोरोना के मद्देनजर लॉकडाउन का अनुपालन कराने के लिए अधिकारी से लेकर सुरक्षाकर्मी तक पूरी तरह तत्पर दिखे.बुधवार की सुबह 11 बजते ही मोहनिया चांदनी चौक के पास मोहनिया एसडीएम अमृषा वैंस एवं डीएसपी रघुनाथ सिंह,कार्यपालक पदाधिकारी संजय उपाध्याय,अंचलाधिकारी कुमार सिंन्हा,थाना अध्यक्ष कल्याण सिंह सहित भारी संख्या में पुलिस बल के साथ चौक चौराहों व मुख्य बाजार में पहुंच गई वे लॉकडाउन के अनुपालन में जुट गए.

ऐसे जीटी रोड पर दिन भर सन्नाटा पसरा रहा. वाहनों का परिचालन और दिनों की अपेक्षा कम रहा. इस दौरान कुछ ऐसे भी लोग थे जो कोरोना कि गाइडलाइन की अनदेखी कर रहे थे। यूं कहें गाइडलाईन की धज्जियां उड़ा रहे थे ऐसे लोगों की शामत आ गई कहीं उन्हें पुलिस के डंडे का स्वाद चखना पड़ा तो कहीं कान पकड़ कर उठक बैठक करनी पड़ी. मोहनिया चांदनी चौक के पास तैनात सुरक्षाकर्मियों ने ऐसे लोगों की जमकर खैरियत ली.

गौरतलब है कि बिहार में कोरोना मरीजों में लगातार बढ़ोतरी हो रही उसे रोकने के लिए सरकार ने एक बड़ी फैसला ली है।आज से ही बिहार सरकार ने सपूर्ण रूप से 15 मई तक लॉक डाउन लगा दी है इस दौरान लोगों से घर में रहने की अपील की जा रही है. बेवजह घर से बाहर न निकले. सुबह 7बजे से 11 बजे तक सरकार ने कुछ दुकानों को खोलने की इजाजत दी है लॉकडाउन के अनुपालन में प्रशासन पूरी तरह सख्त है लॉक डाउन का अनुपालन न करने पर पुलिस ने उनकी जमकर खैरियत ली ऐसे में हिदायत भी दी दुबारा गलती ना करें घर में रहें सुरक्षित रहें सरकार की जो गाइडलाइन जारी की गई है उसका पालन करें बेवजह घर से बाहर न निकले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here