कैमूर-कोरोना महामारी मे कैमूर के अस्पतालों में व्यवस्था सुदृढ़ करने के लिए राजद के रामगढ़ विधायक सुधाकर सिंह ने पूरी ताकत झोंक दी है. जहां इस समय पूरे देश में कोरोना का कहर चरम सीमा पर है. प्रतिदिन लोग संक्रमित हो रहे हैं और आए दिन लोग दम तोड़ दे रहे हैं ऐसे में हम सबका दायित्व बनता है कि जैसे हो सके वैसे मरीजों का ध्यान रखें. यथासंभव जो हो सके उनका भरपूर मदद करें.

कैमूर जिले में भी कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में प्रतिदिन इजाफा हो रहा हैं .कई मरीजों ने दम भी तोड़ दिया हैं. जिसे देखते हुए रामगढ़ विधायक सुधाकर सिंह ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. लोगों की मदद के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं .जिले के अस्पतालों में जो भी समस्या आ रही है. उसे विभाग के संबंधित उच्च अधिकारियों को अवगत करा रहे हैं. रामगढ़ विधायक सुधाकर सिंह का पहल कैमूर जिले में रंग भी ला रहा है.

गुरुवार को रामगढ़ विधायक ने कैमूर जिला अधिकारी को एक पत्र जारी की है जिसमें लिखा गया है रामगढ़ विधानसभा सहित कैमूर जिला में कोरोना संकट से बिगड़ती स्थिति पर नियंत्रण हेतु मुख्यमंत्री क्षेत्र विकास योजना अंतर्गत कोविड 19 मरीजों के चिकित्सा सुविधा हेतु अपने विधायक निधि से सीटी स्कैन मशीन,ऑक्सीजन सिलेंडर,सामान्य बेड,आईसीयू बेड,एंबुलेंस एवं अन्य जरूरी चिकित्सा उपकरण हेतु तत्काल एक करोड़ रुपए की अनुशंसा करता हूं अगर प्रशासन को कोविंड19 से बचाव के लिए अतिरिक्त पैसे की जरूरत होगी तो शेष बचे दो करोड़ रुपए का भी अनुशंसा पत्र मैं भेज दूंगा.

बताते चलें कि रामगढ़ विधायक सुधाकर सिंह ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव को मंगलवार को पत्र लिखकर सदर अस्पताल भभुआ अनुमंडल अस्पताल में ऑक्सीजन पाइप लाइन चालू करने के संबंध में ध्यान आकृष्ट कराया था पत्र में लिखा गया है कि सदर अस्पताल भभुआ का ऑक्सीजन पाइप लाइन वाले बेड कोरोना मरीजों से भरे पड़े हैं।

अतिरिक्त स्थापित बेड पर ऑक्सीजन मास्क एवं रेगुलेटर की घोर कमी के वजह से आक्सीजन होते हुए भी गंभीर मरीजों को आक्सीजन उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है जिस वजह से कई मरीज अपना जान गवा चुके हैं इसके अलावा जिला के अनुमंडल अस्पताल मोहनिया में आक्सीजन पाइपलाइन सहित 55 बेड बनकर तैयार है लेकिन बार-बार मेरे कहने के बावजूद उसे अभी तक शुरू किया नहीं जा सका है।

इससे कोरोना मरीज इधर-उधर भटकने को मजबूर है. कोरोना जैसी महामारी में हम सबका दायित्व है कि कोरोना मरीजों का ख्याल यथासंभव कर सके. अनुमंडल अस्पताल मोहनिया में 55 आक्सीजन वाले बेड शुरू हो जाने से मरीजों को काफी राहत होगी. अतः आप इस विषय को गंभीरता से लेते हुए यथाशीघ्र आक्सीजन माक्स की उपलब्धता एवं अनुमंडल अस्पताल मोहनिया को शुरू कराने हेतु जिला प्रशासन को आदेश देने का कार्य करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here