भभुआ/भगवानपुर/कैमूर। कैमूर से बड़ी खबर आ रही है। जहां कोरोना संक्रमण से जीविका के बीपीएम की मौत का मामला सामने आया है। मृतक जीविका के रोहतास जिले के अकोढ़ीगोला के खपड़ा गांव के रहने वाले थे। जो कैमूर जिले के भगवानपुर प्रखंड में जीविका के प्रखंड परियोजना प्रबंधक यानी बीपीएम के पद पर तैनात थे।कोरोना से मौत की पुष्टि भभुआ सदर अस्पताल के डीपीएम ऋषिकेश जायसवाल ने की। यह घटना गुरुवार 11 बजे की है। दरअसल कोरोना का दूसरा लहर काफी रूप दिखा रहा है। कोरोना संक्रमण का मामला काफी तेजी से बढ़ता जा रहा है।

मिली जानकारी के मुताबिक, बुधवार को भगवानपुर सीएचसी में बीपीएम को कोरोना का जांच एंटीजन कीट से कराया तो वह निगेटिव पाए गए। जिसके बाद उनका आरटीपीसीआर जांच के लिए सैंपल लेकर पटना भेज दिया गया। भगवानपुर जीविका के सामुदायिक समन्वयक दीपक कुमार ने बताया कि गुरुवार की सुबह बीपीएम साहब की तबियत खराब हो गयी। उन्हें सांस लेने में दिक्कत हुई तो भभुआ सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया।

जहां 11 बजे उनकी इलाज के अभाव में मौत हो गई।जीविका के समन्वयक ने बताया कि भभुआ सदर अस्पताल में वेंटिलेटर की व्यवस्था नहीं होने के कारण आज बीपीएम की मौत हो गयी है। सदर अस्पताल में व्यवस्थाओ की कमी कोरोना मरीजो के लिए सुविधाए नहीं होने का आरोप लगाया गया। यह भी कहा कि अगर अभी सदर अस्पताल में वेंटिलेटर व कोरोना मरीजो के व्यवस्थाओं को नहीं किया गया तो कई लोगो की जान जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here