रामपुर/कैमूर। रामपुर प्रखंड में एक बार फिर कोरोना संक्रमण का मामला तेजी से बढ़ने लगा है। ऐसा ही मामला रविवार को सामने आया। जब रामपुर मुख्यालय से करीब 2 किलोमीटर पश्चिम में एक गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा 110 लोगों की कोविड-19 के जांच एंटीजन कीट से किया गया तो एक साथ 10 पॉजिटिव मरीज मिले। जिन्हें होम क्वॉरेंटाइन रहने की सलाह दी गई है। मिली जानकारी के मुताबिक,रविवार को जिस गांव में 10 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले थे।उस गांव का लोगों की सुरक्षा को लेकर प्रखंड प्रशासन द्वारा उस गांव में कंटेनमेंट जोन बनाया जाएगा। आम लोगों को आने-जाने पर प्रतिबंध रहेगा। 

वही पॉजिटिव मरीज को होम क्वॉरेंटाइन में रहने के साथ किसी भी व्यक्ति से मिलने जलने पर रोक लगाई गई है।  आसपास के लोगो को पॉजिटिव के संपर्क में नहीं आने का सलाह दिया गया है। यह जानकारी रामपुर बीडीओ संजय पाठक ने दी। यह भी बताया गया कि जिस गांव में  10 पॉजिटिव मरीज मिले हैं। उस गांव का सोमवार को जायजा लेने के लिए भभुआ सीएस अरुण तिवारी पहुँचे।

सीएस के साथ बीडीओ संजय पाठक, पीएचसी प्रभारी डॉ प्रमोद कुमार, स्वास्थ्य प्रबंधक मोहम्मद इमरान ,प्रखंड समन्वयक रविशंकर बिहारी, बेलांव थानाध्यक्ष सुहेल अहमद ने उस गांव में पहुंचकर भ्रमण किया। भ्रमण के दौरान सीएस व बीडीओ द्वारा उस गांव के लोगो से संपर्क कर कहा गया कि कोरोना संक्रमण से घबराना नहीं है। बल्कि इससे बचाव के लिए सरकार के द्वारा जो भी गाइडलाइन जारी किया गया है।

उसका हर हाल में पालन करें। पॉजिटिव मरीज के अलावा सभी लोग मास्क पहने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, साबुन से बार बार हाथ धोते रहे। सैनिटाइजर का उपयोग करें। सीएस द्वारा स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारियों व कर्मियों को कई प्रकार का दिशा निर्देश दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here