दुर्गावती कैमूर मुबारक अली। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शराबबंदी कानून का कड़ाई से पालन करवाने के लिए लाख उपाय कर रहे.लेकिन शराब तस्कर भी शराब की तस्करी के लिए रोज नए तरीके इजाद कर रहे हैं. बिहार में शराबबंदी करीब 4 साल से अधिक समय हो गया लेकिन शराब तस्करी रुकने का नाम नहीं ले रहा आए दिन शराब तस्कर शराब के साथ पकड़े जा रहे. ऐसा नहीं कि पुलिस शराब तस्करों को पकड़ नहीं रही है।

शराब के साथ तस्कर आए दिन पकड़े जा रहे जेल भी भेजे जा रहे हैं फिर भी रुकने का नाम नहीं ले रहा है. शराब तस्कर रोज नए नए तरीके अपना रहे हैं चार पहिया वाहन तो बाइक साइकिल सहित अन्य साधनों से पुलिस भारी मात्रा में शराब जप्त कर चुकी है और काफी संख्या में शराब तस्करों को भी गिरफ्तार कर भेज चुकी है.


शराब की तस्करी करने के अनेक मामले सामने आते रहे हैं लेकिन अब तस्कर ट्रेन का भी तस्करी के लिए सहारा तस्कर लेने लगे हैं. ऐसा ही मामला पीडीडीयू गया रेलखंड भभुआ रोड रेलवे स्टेशन पर जीआरपी पुलिस ने 586 बोटल शराब बरामद किया है.सभी बरामद शराब आसनसोल वाराणसी पैसेंजर की एक बोगी से बरामद किया गया है.

इस संबंध में भभुआ रोड रेलवे स्टेशन के जीआरपी थानाध्यक्ष रामसेवक सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार की सुबह भभुआ रोड रेलवे स्टेशन पर एएसआई नागेंद्र कुमार, सिपाही विकेश राकेश कुमार सिंह सहित पुलिस फोर्स के साथ यूपी की तरफ से आने वाली ट्रेन की चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था इसी बीच ट्रेन संख्या 03554 वाराणसी से आसनसोल को जाने वाली पैसेंजर ट्रेन का ठहराव भभुआ रोड स्टेशन पर हुआ।

जिसके बाद उक्त ट्रेन में चेकिंग अभियान चलाना शुरु किया गया.इस दौरान ट्रेन के इंजन से तीसरे बोगी में सीट के नीचे और सीट के ऊपर लावारिस हालत में 6 बैग एवं दो झोला दिखाई दिया. जीआरपी पुलिस ने सभी का तलाशी ली जिसमें 750 एम एल के रॉयल स्टैग 11 पीस एवं 775 एमएल के 50 पीस, इंपिरियल ब्लू 375ml के 5 पीस एवं 180ml के दो पीस, किंगफिशर कंपनी के 500 एमएल के 23 पीस तथा एटपीएम टेट्रा पैक 180 एमएल के 495 पीस शराब बरामद हुआ.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here