मोहनिया कैमूर– मोहनिया थाना क्षेत्र के आरकेटी होटल के समीप स्थित बलवंत कंस्ट्रक्शन प्राइवेट कंपनी में डंफर के चपेट मे आने से घटनास्थल पर ही एक युवक की दर्दनाक मौत हो गई. एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गए.मृतक मोहनिया थाना क्षेत्र के कौड़ीराम गांव निवासी अवधेश सिंह कुशवाहा एवं गणेश कुशवाहा बताया जा रहा है.प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक अवधेश सिंह कुशवाहा और उसके बड़े पुत्र गणेश कुशवाहा दोनों कंपनी में भाड़े पर कंपनी का सामान लोड करने के लिए गए हुए थे.

तभी कंपनी के बिटवीन प्लांट के समीप जहां से अलकतरा और गिट्टी मिक्स करके वाहनों पर लोड किया जाता है. वही खड़ा होकर दोनों देख रहे थे की मिक्स किया हुआ गिट्टी लोड करने के लिए एक कंपनी में स्थित डंपर माल लोड करने के लिए अपनी गाड़ी को बैक कर रहा था. इसी बीच डंपर के चालक की नजर वहां पर पहले से खड़े दोनों पिता और पुत्र पर नहीं पड़ी.जिससे अवधेश की चपेट में आने की वजह से मौके पर ही मौत हो गई।

वही पिता को डंपर के चक्का के नीचे दबते देख उसका पुत्र दौड़ पड़ा लेकिन अपने पिता को बचा न सका. जिससे उसकी भी हालत गंभीर हो गई.घटना के बाद आसपास के लोगों की काफी भीड़ मौके पर जुट गई और घायल युवक को इलाज के लिए मोहनिया के अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया. जहां अनुमंडल अस्पताल के इमरजेंसी में मौजूद चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के दौरान  हालत गंभीर देखते हुए बेहतर इलाज के लिए वाराणसी  रेफर कर दिया।

वहीं दूसरी ओर घटना से आहत परिजनों ने मुआवजे की मांग को लेकर अड़ गए और शव को हटाने नहीं दे रहे थे। सूचना मिलने के बाद मोहनिया थाना अध्यक्ष राम कल्याण यादव दल बल के साथ मौके पर पहुंच गए। जिसके बाद कंपनी ने मृतक के परिजनों को ढाई लाख रुपए मुआवजे के तौर पर दीया गया वही अंचलाधिकारी मोहनिया  द्वारा परिजनों को सड़क दुर्घटना में मिलने वाले आपदा विभाग की तरफ से मुआवजे के तौर पर चार लाख रुपए दिलाने के आश्वासन पर परिजनों ने शव को हटाने दिया। जिसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए भभुआ भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here