– घटना भगवानपुर थाना क्षेत्र के पढौती गांव के ओरगाई मोड़ के पास की

 – आक्रोशित लोगों द्वारा डीएम और एसपी की बुलाने की मांग पर अड़े

 # घटना की सूचना पर पहुंची भगवानपुर थाने की पुलिस, थानाध्यक्ष, बीडीओ,सीओ 

भगवानपुर कैमूर। कैमूर से बड़ी खबर आ रही है। जहां जाइलो गाड़ी ने एक 3 वर्षीय बच्चे को रौंद कर फरार हो गया। जिसमें गंभीर रूप से घायल बच्चे इलाज के लिए सदर अस्पताल भभुआ ले जाते समय बीच रास्ते में ही मौत हो गयी। जहां डॉक्टरों ने घायल बच्चे को मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद मृत बच्चे को शव को गांव लाने पर सड़क पर रख कर आक्रोशित लोगों द्वारा भभुआ बसंतपुर नहर पथ को जाम कर दिया गया।  घटना शुक्रवार की दोपहर लगभग साढ़े 12 बजे की भगवानपुर थाना क्षेत्र के पढौती गांव के ओरगाई मोड़ के पास की बतायी जाती है। मिली जानकारी के मुताबिक, मृतक बच्चा पढौती गांव के संजय पासवान का 3 वर्षीय पुत्र अनुराज कुमार बताया जाता है। जो अपने तीन भाइयों में सबसे छोटा था।

जो ओरगाई मोड़ के पास अपने घर दलान के बाहर सड़क के किनारे खेल रहा था। इसी बीच तेज रफ्तार भभुआ से आ रही एक जाइलो वाहन ने 3 वर्षीय बच्चे को रौंद कर दिया। जिसमें बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसके बाद धक्का मारने वाहन चालक घायल बच्चे को इलाज ले जाने के बजाय सड़क से हटा कर वाहन लेकर मौके से फरार हो गया। जिसके बाद घटना की जानकारी मिलते ही ग्रामीणों व परिजनों को घायल बच्चे को इलाज के लिए भभुआ सदर अस्पताल के लिए रवाना हो गए। लेकिन बीच रास्ते में बच्चे ने दम तोड़ दिया।वहीं इस घटना से गुस्साए ग्रामीणों,लोगों व परिजनों द्वारा नहर पथ व भगवानपुर भभुआ मुख्य पथ पर खड़े होकर जाम कर दिया गया। 

घटना की सूचना पर मौके पर भगवानपुर थानाध्यक्ष राकेश कुमार रौशन पुलिस दल बल के साथ,  भगवानपुर बीडीओ मयंक कुमार सिंह,सीओ विनोद कुमार सिंह, समाजसेवी नीरज पांडेय भी पहुँच गए। जहां परिजनों से घटना के बारे में जानकारी प्राप्त की जा रही थी। खबर लिखे जाने तक पुलिस प्रशासन मौके पर मौजूद रही और आक्रोशित लोगों व परिजनों को समझा बुझा कर शांत कराने का प्रयास कर रही थी।

आक्रोशित लोगों द्वारा धक्का मारने वाले वाहन को जब्त कर चालक के खिलाफ कार्रवाई करने के साथ डीएम व एसपी को भी बुलाने की मांग पर अड़े थे। आक्रोशित लोग व परिजनों द्वारा पुलिस प्रशासन व समाजसेवी द्वारा समझा बुझा कर शांत कराने का प्रयास किया जा रहा है। घटना के बाद गांव में कोहराम मच गया। परिजनों का रो रोकर बुरा हाल हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here