मोहनिया कैमूर। तीन वर्ष पहले मोहनिया थाना क्षेत्र के आरकेटी होटल के समीप जीटी रोड पर सड़क किनारे एक खड़ी ट्रक से पुलिस ने झारखंड के दाऊद नगर जिले के अग्नि गांव निवासी ट्रक का चालक परशुराम पासवान का शव बरामद किया था. ट्रक के चालक के हत्या के मामले में मोहनिया थाने में  पुलिस द्वारा अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी.लेकिन घटना के इतने दिनों के बाद हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले हत्यारे खलासी को अनुसंधान के क्रम में आखिरकार पुलिस ने मोबाइल ट्रेसिंग के आधार पर ढूंढ निकाला।

उसे हुसैनाबाद बाजार से गिरफ्तार कर सोमवार को सलाखों के पीछे धकेल दिया.पुलिस के सामने हत्यारे खलासी ने अपना इकबाले जुर्म भी कुबूल कर लिया है गिरफ्तार खलासी पलामू जिले के पिपरा थाना क्षेत्र के पोलदा निवासी अर्जुन पेसवानी का पुत्र पप्पू पासवान  बताया जा रहा है.इस संबंध में मोहनिया थाना अध्यक्ष राम कल्याण यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि खलासी द्वारा  किए गए अपने इक़बाले जुर्म को कबूल करते हुए  बताया है कि 3 वर्ष पूर्व 8 नवंबर 2018 को उक्त ट्रक के चालक का खलासी छुट्टी पर चला गया था।

इसके बाद ट्रक के चालक ने नए खलासी के रूप में पप्पू पासवान को रख लिया था और इसकी जानकारी अपने घर परिजनों को भी दे दिया था लेकिन चालक ने खलासी का नाम परिजनों को नहीं बताया था इसी बीच रात्रि में ट्रक के चालक ने मोहनिया थाना क्षेत्र के आरकेटी होटल के समीप सड़क किनारे अपने ट्रक को खड़ा किए हुए था ट्रक के चालक के पास 90 हजार रुपए रास्ते के सफर के लिए मौजूद थे जिसे देख खलासी का मन बदल गया और पैसे की लालच में आकर उसी दिन रात्रि में ट्रक चालक को सबसे पहले राड से मारने के बाद ट्रक का चालक बेहोश हो गया।

उसके बाद हत्या कर चालक के पास में रखें 90 हजार रुपए नगदी एवं उसका मोबाइल लेकर मौके से फरार हो गया था। इसके बाद अगली सुबह जैसे ही ट्रक के चालक की मौत की खबर पुलिस को मिली जिले में यह खबर आग की तरह फैल गई सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में करते हुए पोस्टमार्टम के लिए भभुआ भेज दिया था। वहीं मृतक चालक की हुई हत्या के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की थी।

ट्रक चालक की हत्या के बाद खलासी उसके मोबाइल में अपना सिम डाल कर आराम से घूम रहा था इसके बाद पुलिस ने अनुसंधान के क्रम में मोबाइल ट्रेसिंग के आधार पर पुलिस ने उक्त खलासी को हुसैनाबाद बाजार से गिरफ्तार कर मोहनिया थाने लाई जिसके बाद उसका फर्द बयान लिया गया  जिसमें उसने घटना की वारदात की सारी  बातें पुलिस को बताई है इसके बाद पुलिस ने  उसका बयान  दर्ज  करने के बाद सोमवार को आगे की कार्यवाही करते हुए उसे न्यायिक हिरासत भभुआ भेज दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here