#सीओ ने कहा – लाल कार्ड का जमीन लेने वाले को चिन्हित, जांच करने के बाद ही मिल सकता है लाभ 

रामपुर/कैमूर। गुरूवार को रामपुर प्रखंड मुख्यालय सीओ से लाल कार्ड का जमीन की मांग को लेकर लगभग एक दर्जन महिलाएं पहुँची। लेकिन उस दौरान महिलाओं का सीओ से मुलाकात नहीं हो पाया।बिना सीओ के मुलाकात किये ही महिला फरियादियों को खाली हाथ वापस लौटना पड़ा। बेलांव गांव की शांति देवी, सवित्रा देवी, प्रभावती देवी, लाचो देवी, लीलावती देवी,लक्ष्मीना देवी  सहित कई महिलाओं ने बताया कि बेलांव सोन उच्चस्तरीय नहर से चेनारी जाने वाली पथ में सड़क के किनारे नहर के चाट पर दर्जनों लोग मड़ई डालकर सालों से रह रहे हैं। अपना जमीन नहीं होने के कारण नहर के किनारे रहने में परेशानी का सामना करना पड़ता है।

वही उनके परिवार में भी बेटों के  अलग होने के बाद और भी दिक्कत होने लगी है। अब एक ही झोपड़ी में रहना मुश्किल हो गया है।लाल कार्ड की जमीन को सरकार, रामपुर प्रखंड प्रशासन द्वारा दे दिया जाता तो काफी राहत मिलती। इसलिए हम  रामपुर प्रखंड मुख्यालय में सीओ मैडम से लाल कार्ड का जमीन की मांग करने के लिए पहुंचे हुए हैं। लेकिन अभी तक सीओ मैडम से मुलाकात नहीं हो पाई है। 2 दिनों से प्रखंड मुख्यालय आ रहे हैं।

हम महिलाएं अंचल प्रशासन, जिला प्रशासन से मांग करते हैं कि जो बेलाव नहर के किनारे एवं नौहट्टा पहाड़ के किनारे बसे हुए हैं। उनका जमीन है या नहीं है। वैसे लोगों को चिन्हित कर जांच करते हुए उन्हें लाल कार्ड का जमीन दिया जाए। जिससे दर्जनों गरीब परिवार के लोगों को उनका आशियाना मिल सकें।

बोली सीओ – इस संबंध में पूछे जाने पर रामपुर सीओ लवली कुमारी ने बताया कि महिलाओं से मुलाकात नहीं हुई। मैं अनुमंडल में बैठक हूँ। अगर ऐसा मामला है तो सबसे पहले चिन्हित करते हुए जमीन का जांच किया जायेगा। इसके बाद ही आगे की प्रक्रिया पूरी की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here