ग्रामीणों ने सीओ पर व्यक्ति विशेष के इशारे पर कार्रवाई करने का लगाया आरोप

ग्रामीणों द्वारा हंगामा और ड्राइवर के जेसीबी छोड़कर भागने के बाद सीओ ने बेलांव थाने की पुलिस को सूचना देकर बुलाया

सीओ ने ग्रामीणों के आरोप को बताया बेबुनियाद, खनन विभाग के पदाधिकारियों से बातचीत के बाद किया जाएगा कार्रवाई

रामपुर/कैमूर। रामपुर प्रखंड के बेलांव थाना क्षेत्र के खजुरा के सरैयां टोला में गुरुवार की दोपहर अवैध खनन के मामले में एक जेसीबी को सीओ द्वारा जप्त कराया गया। जिसके बाद इस मामले में ग्रामीणों द्वारा हंगामा खड़ा कर दिया। हंगामे के बाद सीओ को बेलांव थाने की पुलिस को बुलाना पड़ा। जिसके बाद जेसीबी के ड्राइवर को जेसीबी मशीन को छोड़ कर जाने के बाद गांव के दूसरे ड्राइवर को पकड़ कर सीओ द्वारा जेसीबी मशीन को जप्त करते हुए बेलांव थाना में लाकर खड़ा करा दिया गया।

मिली जानकारी के मुताबिक, जेसीबी मशीन पश्चिम से पूरब की ओर सड़क से आ रही थी। इसी बीच सूचना पर सीओ अपने सरकारी गाड़ी के गार्ड के साथ पीछा करते हुए सरैयां टोला तक पहुँच गयी। सीओ द्वारा सरैयां टोला में जेसीबी को जब्त कर बेलांव थाने ले जाने लगी तो ग्रामीणों द्वारा हंगामा खड़ा कर दिया गया। 

वही सरैयां टोला निवासी त्रिभुवन राम, सोनहन के गुलाब बिंद ने बताया कि जेसीबी सड़क से जा रही थी।जेसीबी को जब्त करने के लिए सीओ के गार्ड द्वारा थाने ले जाने के दौरान ड्राइवर के साथ मारपीट किया जाने लगा। जिसके बाद ग्रामीणों द्वारा उसे बचाकर घर में छिपा दिया गया। 

ग्रामीणों द्वारा सीओ पर आरोप लगाया गया है कि किसी व्यक्ति विशेष के इशारे पर जेसीबी मशीन को अवैध खनन के खुदाई करने के आरोप में जब्त कर थाने ले जाया गया है।जबकि जेसीबी मशीन खजुरा के सरैयां के सड़क होकर गुजर रहा था। वही सीओ के गार्ड द्वारा ड्राइवर से जेसीबी मशीन के चाभी व मोबाइल को छीन लिया गया ।सीओ के गार्ड द्वारा ड्राइवर के साथ मारपीट करने का भी आरोप लगाया गया। जिसके बाद गांव के दूसरे ड्राइवर को बुलाकर जेसीबी को बेलांव थाने ले जाया गया। जबकि सीओ द्वारा जो कार्रवाई किया जा रहा है। वह सरासर गलत है।

इस मामले में सीओ लवली कुमारी ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि अवैध खनन के मामले में दो पक्ष आमने-सामने आ गए हैं और मर्डर की भी संभावना बताई गई थी। इसके बाद सूचना पर पहुंचने के बाद भाग रहे जेसीबी मशीन को जब्त कर बेलांव थाने में लाया गया है। वही सीओ ने ग्रामीणों पर ही गार्ड के साथ बदसलूकी व धक्का मुक़ा करने का लगाया आरोप लगाया। वही व्यक्ति विशेष के इशारे पर कार्रवाई के आरोप को बेबुनियाद बताया गया है। यह कार्रवाई अवैध खनन के मामले में गुप्त सूचना के आधार पर की गई है। वही खनन विभाग के पदाधिकारी से बातचीत करते हुए आगे की कार्रवाई किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here