#घटना भगवानपुर थाना क्षेत्र के अरारी गांव का भगवानपुर कैमूर। कैमूर से बड़ी खबर आ रही है। जहां छठ पूजा को लेकर तालाब के किनारे छठ घाट की लिपाई करने गए पूर्व मुखिया के 18 वर्षीय पोते की पानी में डूबने से मौत हो गई। घटना गुरुवार की सुबह लगभग 9-10 बजे के बीच भगवानपुर थाना क्षेत्र के स्थानीय थाना क्षेत्र के अरारी गांव का बताया है। मृतक युवक अरारी गांव निवासी मोकरम पंचायत के भूतपूर्व मुखिया सूर्यवर्ती सिंह का पोता और उनके पुत्र चंद्रमोहन सिंह का 18 वर्षीय पुत्र गुंजन सिंह उर्फ गोलू सिंह बताया जाता है।

मिली जानकारी के मुताबिक,मृतक युवक छठ पूजा को लेकर गांव के ही तालाब के किनारे छठ घाट की पुताई करने के लिए अकेले सुबह घर से गया था। जब वह तक काफी देर तक घर नहीं लौटा तो उसके परिजनों द्वारा उसके मोबाईल पर फोन लगाया गया। लेकिन मोबाईल पर घण्टी जाने के बाद भी वह उठा नहीं पा रहा था। जिसके बाद उसका बड़ा भाई दौड़ते हुए छठ घाट पर पहुँचा। जहां देखा कि उसका मोबाइल,कपड़ा व चप्पल पड़ा हुआ है तो उसे भाई के डुबने का शक हुआ।

जिसके बाद उसने गांव में शोर कर हल्ला किया। तालाब में डूबने की सूचना पर सैकडो लोग घटनास्थल पर जुट गए।जिसके बाद गांव व आसपास के गोताखोर तालाब में कूद कर युवक का खोजबीन शुरू किया गया। लगभग तीन घंटे के कड़ी मशक्कत के बाद गोताखोरों ने उस युवक का शव तालाब से निकाला। जिसके बाद तुरंत परिजनों से उसे इलाज के लिए भगवानपुर के निजी अस्पताल लाया गया। जहां चिकित्सकों ने जांचोपरांत उस युवक को मृत घोषित कर दिया।

वही घटना की सूचना पर सीओ विनोद कुमार सिंह, थानाध्यक्ष राकेश कुमार रौशन, बीडीओ मयंक कुमार सिंह व पुलिस पदाधिकारी व जवान भी पहुँचे हुए थे। वही घटना के बाद पूरे गांव में कोहराम मच गया। गांव में चारों तरफ जहां छठ पूजा को लेकर खुशियां दिख रही थी। वहां मातमी सन्नाटा पसर गया। वही घटना के बाद परिजनों का रो रोकर बुरा हाल हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here