भभुआ/कैमूर। बिहार में केंद्र सरकार द्वारा किसान बिल के विरोध में जन अधिकार पार्टी द्वारा बिहार बंद का आह्वान पर प्रदर्शन किया जा रहा है। इसी के तहत कैमूर जिले के भभुआ रोड स्टेशन मोहनियां में जन अधिकार पार्टी के दर्जनों कार्यकर्ताओ अपने हाथ में बैनर पोस्टर लिए हुए किसान बिल के विरोध में रेलवे ट्रैक पर पहुँच कर ट्रेन को रोक व हाइवे पर चक्का जाम करते हुए प्रदर्शन किया गया। इस दौरान सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन के दौरान जीआरपी और आरपीएफ द्वारा काफी समझाने के बाद ट्रैक से जाम हटे। इसके बाद जाप कार्यकर्ताओं में वहां से मोहनियां हाइवे पर पहुँच कर  बैठ कर चक्का जाम करते हुए विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है।नेशनल हाइवे पर जाम करते ही वाहनो की लंबी कतारें लग गयी।   

जन अधिकार पार्टी के जिला कार्यकारिणी अध्यक्ष रामविलास पासवान ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव के निर्देशानुसार किसान बिल के विरोध में रेलवे ट्रैक व हाइवे पर चक्का जाम कर रहे हैं। सरकार ने जो किसान विरोधी लाया है। उसे वापस लिया  जाए। वह किसानों के हित में नहीं है। सरकार सिर्फ दिखावा कर रही हैं कि किसानों के लिए हमने बहुत कुछ किया है। इस सरकार ने किसानों को मार डाला है। किसान फसल को ऊपजाते है लेकिन उसका मालिक सरकार बन बैठती है। सरकार किसानों के फसलों का  मनमाना रेट लगा देती है। यह कहां का न्याय है। अगर सरकार द्वारा इस बिल को वापस नहीं लिया जाता है। हमारे विरोध प्रदर्शन को नहीं मानेगी तो इससे बड़ा कदम उठाया जाएगा।

वही जन अधिकार पार्टी के मोहनिया प्रखंड अध्यक्ष विपिन कुमार सिंह ने बताया कि किसान और जवान देश के अहम कर्णधार हैं। किसानों के हित में अध्यादेश लाकर सरकार पीठ थपथपा रही है। लेकिन वह किसानों के हित में नहीं है। हम प्रदर्शन कर रहे है कि किसानों को न्याय मिले। जो वर्तमान की सरकार ने कहा था किसानों की आय दुगुनी करेंगे। लेकिन आज किसान आत्महत्या करने पर मजबूर हैं। हम लोग किसानो के आवाज बुलंद के लिए दिल्ली संसद का घेराव करने को तैयार हैं। जब तक किसानों को न्याय नहीं मिलेगा हमारा आंदोलन जारी रहेगा। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here