भगवानपुर/कैमूर। भगवानपुर प्रखंड का एक ऐसा गांव जहां के लोग तीन मौसमों में जलजमाव की समस्या से जूझ रहे है। जिसके कारण उस गांव के लोगों को आने जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल, भगवानपुर प्रखंड का वह गांव है सरैयां। भगवानपुर मुंडेश्वरी जाने वाले पथ से इस गांव में जाने वाले सड़क में सालों भर जलजमाव की समस्या बनी रहती है। चाहे वह गर्मी,बरसात या जाड़े के मौसम ही क्यों न हो।

इस जलजमाव की समस्या का कारण गांव के ही कुछ लोगों द्वारा पानी निकासी वाले स्थान के पास अतिक्रमण करना और समुचित जलजमाव की निकासी नहीं हो पाना बताया जाता है। ग्रामीण हीरा साह, महेंद्र बिंद, रामेश्वर साह, गोपी बिंद, सुरेंद्र बिंद ने बताया कि इस गांव में जाने वाली सड़क पर तीन चार सालों से हमेशा जलजमाव की समस्या बनी हुई। लोगों के घरों का गंदा बह आकर सड़क पर जलजमाव हो जाता है। यह जलजमाव की समस्या झील की तरह प्रतीत होता है। इस सड़क पर लगा जलजमाव में घुटने भर पानी से होकर लोगों को आना जाता है।

इस स्थिति में लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जब कि सड़क के एक साइड में नाली का भी निर्माण हुआ है। लेकिन नाली से जलजमाव की पानी का निकासी नहीं होता है। जिससे नाली से कोई फायदा नहीं है। ग्रामीणों ने बताया कि आदमी व युवा तो किसी तरह चले आते जाते है।लेकिन सबसे ज्यादा परेशानी बच्चों,महिलाओं,लड़कियों,वृद्ध महिला पुरुष की होती है। कई लोग जलजमाव से होकर आने जाने में बच्चें व लोग गिर जाते है।

वही बाइक सवार लोग भी इस रास्ते से होकर आने जाने के दौरान अनियंत्रित होकर जलजमाव के बीच हुए गढ्डों को भाप नहीं पाते है। जिससे वे गिर कर चोटिल होकर घायल हो जाते है। वही लोगों ने बताया कि इस जलजमाव की समस्या की समाधान के लिए कई बार मुखिया व प्रखंड प्रशासन से शिकायत किया गया। लेकिन आज तक कोई पहल नहीं किया गया।

यह खबरें भी हेडिंग पर क्लिक करके जरूर पढ़िए …

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here