भभुआ/कैमूर। चालक का हाथ पैर बांध कर हथियार के बल पर ट्रैक्टर, मोबाइल व नकदी लूटकांड मामले में मुख्य सरगना अंतरजिला लुटेरे समेत दो को कैमूर पुलिस ने बक्सर से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार लुटेरों में अमरेश चौधरी पिता घरभरन चौधरी ग्राम कुकुढ़ा थाना इटाढ़ी जिला बक्सर जबकि दूसरा आरोपित रमन कुमार साह पिता स्वर्गीय सोनेलाल साह ग्राम चीनी मिल बक्सर बताये जाते है।

पुलिस के हत्थे चढ़े एक लुटेरे के पास से लूटे गए ट्रैक्टर को बेचने के बाद मिले के एक लाख 20 हजार रुपए भी पुलिस ने बरामद किया हैं। गिरफ्तार लुटेरों में से एक पर रोहतास, बक्सर और कैमूर में लूटकांड के कई मामले दर्ज हैं। इस जानकारी कैमूर एसपी दिलनवाज अहमद ने प्रेसवार्ता कर दी। 

ट्रैक्टर लूटकांड के मामले में प्रेसवार्ता करते कैमूर एसपी

उन्होंने बताया कि बीते 23 अप्रैल को सुबह करीब 5 बजे कैमूर जिला अंतर्गत कुदरा थाना क्षेत्र के ग्राम डीहरा के पास एक ट्रैक्टर चालक दीपक कुमार सिंह को दो मोटरसाइकिल पर सवार चार अज्ञात अपराधियों ने खेत में ले जाकर हाथ-पैर बांधकर मारपीट करते हुए हथियार के बल पर एक महिंद्रा ट्रैक्टर, एक मोबाइल एवं 600 रुपए छीन लिए थे।

इस मामले में पुलिस ने कुदरा थाना में कांड दर्ज किया था। इस घटना के 7 दिन बाद दो मोटरसाइकिल पर सवार तीन अपराधियों ने पुनः नदी के पार प्रकाश भट्ठा के सामने एक ट्रैक्टर चालक के साथ उसी प्रकार मारपीट करते हुए ट्रैक्टर लूटकर भागने की कोशिश कर रहे थे।लेकिन पुलिस की तत्परता से अपराधी बाइक को छोड़कर भाग गए थे। जिसे पुलिस ने दोनों बाइकों को जब्त कर लिया गया था।

बेचे गए ट्रैक्टर लूट के बाद बरामद 1.20 लाख रूपये

#मुख्य सरगना कई माह से चल रहा था फरार
इस कांड का मुख्य सरगना अमरेश कुमार चौधरी ग्राम कुकुढा थाना इटाढ़ी जिला बक्सर कई माह से फरार चल रहा था। जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी की। लेकिन वह पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ सका था। इस मामले में लूटी गई मोबाइल को बरामद करते हुए दो अपराधकर्मी में शामिल लाल बाबू पटेल पिता सुभाष चौधरी और ऋषिकेश गिरी पिता विजय गिरी दोनों ग्राम टेकारी थाना चेनारी जिला रोहतास को गिरफ्तार किया गया था। जिनसे पूछताछ करने पर पता चला कि घटना में 4 लोग शामिल थे।

#चोरी की वाहनों को बेचता था यूपी
इनकी निशानदेही पर रमन कुमार साह को चीनी मिल स्थित उसके घर से गिरफ्तार कर पूछताछ किया गया तो उसने बताया कि पुराने एवं चोरी के ट्रैक्टर एवं अन्य गाड़ी को सस्ते दाम पर खरीद कर मुनाफा लेकर बेच देता है। घटना में लूटे गए ट्रैक्टर को 1.20 लाख में वह मुरादाबाद में बेच दिया था। इसके साथ ही उसने बताया कि करीब 2 वर्ष से पुराने एवं चोरी की गाड़ी खरीद बिक्री का काम कर रहा है। अब तक 35 से 40 ट्रैक्टर एवं अन्य गाड़ी को यूपी में ले जाकर बेच चुका है।

अमरेश ने रमन को बेच था लूटी गई ट्रैक्टर
शनिवार को कुदरा थानाध्यक्ष ने बक्सर जिले की इटाढ़ी थाना पुलिस के सहयोग से कांड में फरार चल रहे अमरेश चौधरी को इटाढ़ी से गिरफ्तार किया। पहले पूछताछ में उसने कुछ नहीं बताया लेकिन सख्ती से पूछताछ में उसने अपना अपराध स्वीकार करते हुए बताया कि लूटे गए ट्रैक्टर को कामेश कुमार यादव के साथ मिलकर रमन कुमार साह ग्राम चीनी मिल थाना बक्सर को बेच दिया था।

ट्रैक्टर व अन्य वाहन लूटकांड का मुख्य सरगना है अमरेश
एसपी ने बताया कि अमरीश चौधरी एक अंतरजिला अपराधकर्मी है। उसका अपराधिक इतिहास रहा है। जिस पर रोहतास जिले के दिनारा,कुदरा एवं बक्सर को मिलाकर कुल चार लूट कांड के मामले दर्ज हैं। बक्सर के इटाढ़ी थाना क्षेत्र में एक ट्रक ड्राइवर से 1.89 लाख लूट के मामले में जेल भी जा चुका है जबकि दिनारा थाना क्षेत्र से कार लूट के मामले में फरार चल रहा था। यह सड़क पर ट्रैक्टर एवं अन्य वाहन लूट कांड का मुख्य सरगना है। जिसकी गिरफ्तारी से रोहतास समेत अन्य जिला में लूटकांडों का उद्भेदन की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here